Monday, July 30, 2018

आज हम बताएँगे ग्रह की अवस्था निकालना

आज हम बताएँगे ग्रह की अवस्था निकालना

जैसा की हम जानते है हर ग्रह अपनी अलग अलग राशी/अंश/कला/विकला में होता है! हर व्यक्ति की कुंडली में वो अलग अलग होता है! ग्रहों की अपनी अवस्था होती है जो की निम्न होती है -- 
1. बाल अवस्था
2. कुमार अवस्था
3. युवा अवस्था
4. वृद्ध अवस्था
5. मृत अवस्था

पंचांग में प्रथम राशी मेष को 00 लिखा जाता है, दूसरी राशी वृष को 01, इसी क्रम में बारहवी राशी मीन को 11 लिखा जाता है! उदहारण के लिए जैसे सूर्य सिंह राशी में किसी अंश, कला, विकला का हो तो उसको इस प्रकार लिखा जाएगा 04/12/45/50! 


विषम राशी में मेष, मिथुन, सिंह, तुला, धनु, कुम्भ इत्यादि आते है व सम राशी में वृष, कर्क, कन्या, वृश्चिक, मकर, मीन इत्यादि आते है! 

तो आइए जानते है कैसे निकाली जाएगी किसी भी ग्रह की अवस्था 
किसी भी ग्रह की अवस्था निकालने के लिए पहले ग्रह स्पष्ट लिख लेते है उसके बाद उसकी राशि देखते है की सम राशि है या विषम राशि है उसके बाद जिस ग्रह की अवस्था निकालना है उसके अंश से अवस्था निकाल लेते है! 


                               ग्रह की अवस्था
विषम राशि
अंश
सम राशि
बाल
00 से 06 तक
मृत
कुमार
06 से 12 तक
वृद्ध
युवा
12 से 18 तक
युवा
वृद्ध
18 से 24 तक
कुमार
मृत
24 से 30 तक
बाल

उदाहरण के लिए जैसे सूर्य स्पष्ट 02/22/27/51 है तो पहले राशि देखते है की क्या है सम या विषम ! ग्रह स्पष्ट से मिथुन राशि है अतः विषम राशि आई अब सारणी में देखने पे सम राशि वाले में अब अंश देखते है की 22 है अतः सारणी में वृद्ध अवस्था आई!

उदाहरण के लिए :- ग्रह स्पष्ट एवं उनकी अवस्था :-

ग्रह
ग्रह स्पष्ट
अवस्था
सूर्य
02 | 22 | 27 | 51
वृद्ध
चंद्रमा
07 | 26 | 22 | 45
बाल
मंगल
03 | 06 | 56 | 44
वृद्ध
बुध
02 | 10 | 11 | 12
कुमार
गुरु
00 | 04 | 09 | 41
बाल
शुक्र
02 | 11 | 49 | 09
कुमार
शनि
07 | 20 | 42 | 56
कुमार
राहु
11 | 12 | 43 | 32
युवा
केतु
05 | 12 | 43 | 32
युवा

मै आशा करता हू की आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी! आपको ये जानकारी कैसी लगी इसके बारे में हमें जरुर बताइयेगा! व आगे इसी तरह की ज्योतिष की जानकारी के लिए जुड़े रहिएगा..........

आप हमारे बाकि के ब्लोग्स भी यहाँ देख सकते है 




हमसे सम्पर्क करने के लिए मेल करे 
Previous Post
Next Post

About Author

1 comment:

  1. This is a beautiful article, thanks a lot. Sam and visham Rashi must be calculated from Chandra Rashi or Lagna Rashi? Thanks in advance.

    ReplyDelete